चुदाई के फायदे

चुदाई करने की इच्छा सभी को होती है, बिना चुदे चुत मैं खाज आती है।और बिना चोदे लंड बेकार हो जाता है । आज हम चुदाई के फ़ायदे जानने की कोशिश करेगे, । चुदाई के फ़ायदे को हम निम्न भागो मैं बाँट देते है –

1)Scintefic Benefits:
2)Medical Benefits:
3)सामाजिक फ़ायदा
4)अन्य फ़ायदा

1)Scintefic Benefits:

* चुदवाने से Monthly Periods ठीक टाईम पे आते है
* अगर boys चुदाई के समय अच्छे अच्छेआसान इस्तेमाल करे तो समझिए , पूरी बॉडी का व्यायाम हो     गया
* लंड मोटा ओर लंबा हो तो चुत केअंदर जा के पूरी चुत की अच्छी तरीकेसे सफाई कर देता है ।
* रोज चुदवाने से डॉक्टर से aap दूर रह सकते है, आपका स्वास्थ मस्त रहेगा…

2)Medical Benefits:

* चुदाई से बॉडी की एक्स्ट्रा केलोरी कमहोती है, इससे आपका शरीर फिट रहता है ।
* अच्छी चुदाई से मानसिक तनाव दूर होता है
* चुदाई जोरदार हो तो उससे साथी के प्रति Intimacy ज्यादा होती है
* डॉक्टर कहते है , चुदाई से Hormone Estrogen Produce होता है , जो की बालो ओर त्वचा के लिए फायदेमंद है ।
* चुदाई के बाद नींद काफी अच्छी आती है, सूबह आप बील्कुल फ्रेश उठेंगे…

3)सामाजिक फ़ायदा

* अच्छी तरह चुदाई के बाद कुछ समय तक बॉय की इच्छा सेक्स के प्रति नहीं रहती, अत:, अच्छी  चुदाई के बाद बलात्कार जेसे घिनोने कुकर्म से छुटकारा मिल सकता है ।
* चुदाई के समय कुछ खाया पिया नहीं जाता, लंबे फोरप्ले के बाद जोरदार चुदाई , मतलब चुदाई करते रहो, देश का खाद्यान बचाते रहो ।
* अच्छी तरह चुदाई करने वाले नवयुवक गांडु (गे)नहीं होते, आदर्श समाज के लिए ये जरूरी है ।
*भारत मैं अधिकतर चुदाई अंधरे मैं ओर घर मैं होती है, जिस से बिजली और पेट्रोल की बचत होती है और बिजली ओर पेट्रोल की बचत ही इसका उत्पादन है ।
*अधिकतर लोग चुदाई करते समय सेल फोन को ऑफ कर देते है, इससे सेलफोन से होने वाले दुष्प्रभावो से कुछ समय के लिए मुक्ति मिल जाती है ।
* चुदाई के समय अच्छे अच्छे वादे किए जाते है जिसे लोग निभाने की भी कोशिश करते है।

आपको कैसी लगीं? कृपया कमेंट के माध्यम से बताएं और यदि आप भी इनके कोई रोचक किस्से जानते हों तो हमें ज़रूर भेजें.

यदि आपके पास Hindi,English में कोई article, story, essay  या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे E-mail करें. हमारी Id है:  sexstorian@gmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम के साथ यहाँ  PUBLISH करेंगे. Thanks!

3.2/5 - (4 votes)

error: Content is protected !!