माँ बेटा – माँ की चूत चुदाई की कहानी Sex Stories

loading...

माँ की चूत चुदाई की कहानी Sex Stories, Antarvasna, Kamukta, Hindi Sex Story,
माँ बेटा Maa Beta, Bete Ne Apni Maa Ko Choda, Maa Ki Chudai Beta Mom, Mummi, Ammi, Mother.

हेलो फ्रेंड्स मेरा नाम राज है आवर मैं आपको बहुत ही कामुक कथा सुनने जा रहा हु आशा करता हु के आपको पसंद आये। दरसल ये कहानी मेरे ओर मेरी माँ के बीच की है, मेरी माँ का नाम रुपा है उमर 37 साल लेकिन दिखाने में बहुत ही कामुक है

loading...

गोरा बदन सुडौल मुम्मे देख कर कोई भी मुठ मारे , अगर आपको कहानी पसंद आती है और अगर आपको कोई टिप्पणी देनी हो तो imraj.6200@gmail.com मुझे मेल कर सकते है। चलिये बिना वक्त जाया किये सीधा कहानी पर आते है, मेरी माँ और में पिताजी के देहांत के बाद अकेले पड गए थे पापा एक सरकारी कर्मचारी थे इसलिए फंड के पैसे मिले थे

loading...

और जमीन को किराए पे दे कर घर चल रहा था। मा मुझे बहुत प्यार करती थी मैं पहले मा के बारे मे कोई गन्दा नही सोचता था पर एक दिन जब में सुबह उठा तो देखा की माँ रोज की तरह नहा कर बाहर आ रही थी उन्होंने सिर्फ टॉवल को कमर पर लपेटा था और अपने मुम्मो पर हाथ रखकर बाहर आ रही थी मा को इस हालत में देख कर मेरा लंड खडा हो गया बस उसी दिन से मा के बारे में बुरे बुरे खयाल आने लगे, जोकि हम गांव में रहते है वह पर ब्रा पैंटी नही यूस करते मा भी सिर्फ साड़ी पहनती थी और रात में सिर्फ नाइटी(अंदर से बिलकुल नंगी ) उसमे उसके बड़े बड़े मुम्मे बहुत अच्छे लगते थे । मा ओर में रात में साथ ही सोते थे

अब में मा को टच करने की कोशिश करता कभी उनकी जांघो पे कभी उनके मुम्मो पे बस ऐसे ही दिन निकल रहे थे और में मा को चोदने के सपने देखने लगा एक दिन रात को मैं पेशाब के लिये उठा तो देखा कि माँ गहरी नींद में थी और अपने पैरों को मोड़ के सो रही थी जिस वजह से मुझे उसकी छोटे छोटे बालों से भरी रसीली चूत देखने को मिली मैं तो सिर्फ उसे देखता ही गया , पर दर की वजह से में ज्यादा कुछ नही कर सका और पेशाब के साथ मुठ मार कर सो गया , जो कि में कॉलेज स्टूडेंट था तो मेरे पास मोबाइल था और कैमरा भी अच्छा था

अगली सुबह मैन देखा कि माँ नाइटी मे थी मैन मा की फ़ोटो निकालने की सोची लेकिन नाइटी के अंदर से तो मैंने कैमरा चालू कर के नीचे जमीन पर रख दिया जैसे ही मा मुछे चाय देने आई तो ओ कैमरा के ठीक ऊपर खड़ी थी जिससे मुझे मा का नंगा बदन दिखा (यही फ़ोटो मैं आपके साथ साझा कर रहा हु) मैं तो देखने के तुरंत बाद बाथरूम में जा के मुठ मार दिया मा बहुत कमाल बदन की मालकिन थी उस रात मैन आगे बढ़ाने की कोशिश की रात में बहुत ज्यादा ठंड पड़ी थी मैं ओर मा एक ही रजाई में सो रहे थे ठंड की वजह से मा मुझे चिपक कर सो रहीथी ओर उनका एक पाओ मेरे कमर पर था जिस वजह से उनकी नंगी चूत दिख रही थी मैन ज्यादा न हिलेडुले मा की जांघो पर हात फेरना सुरु किया और चूत तक पहुच गया उनकी बालो में मैं हात फिराते हुए में चूत भी सहला रहा था चूत से बहुत अच्छी खुशबू आ रही थी मैन धीरेसे अपना पजामा नीचे किया और मेरा 7″ खड़ा लंड बाहर निकला ओर चूत पर घिसने लगा

जिस वजह से मेरे लंड से थोड़ा पानी आने लगा और चूत गीली हो गयी मुझसे रहा नही गया इस लिए मैन चूत के छेद पर लंड रखा और धिरे से दबा दिया पापा के देहांत के बाद मा ने चुदाई नही की थी इसलिए छूट का छेद बहुत ज्यादा टाइट था मैन ओर जोर लगाया मेरे लंड का टोपा अंदर चला गया मुजे बहुत ज्यादा दर्द हुआ लेकिन तभी मा खासी जिस वजह से ओ मेरी ओर खिसक गई और मेरा आधा लंड चूत में समा गया मैं बहुत ज्यादा डर गया था इसलिये मै बिल्कुल नही हिला थोड़ी देर बाद मैंने लंड को छूट के अंदर बाहर करना शुरू किया मुछे बहुत मजा आ रहा था अब मेरा आधे से ज्यादा लंड छूट में चुदाई कर रहा था

मुझे झड़ने की इच्छा हो गयी इस लिए मने ओर अंदर चुदाई करना शुरू किया और आखरी वार पे मेरा पूरा लैंड मा की प्यारी चूत में था मैंने मेरे पानी की 7-8 तेज तर्रार पिचकारियाँ छोड़ दी जिससे मा की चूत पानी से गदगद हो गयी और पानी चूत से बाहर बहने लगा मैन मा की ओर देखा ओ अभी भी गहरी नींद में थी मैन लंड को चूत से बाहर निकाला तो पच की आवाज के साथ थोड़ा पानी बाहर आ गया लेकिन ज्यादा तर पानी चूत की गुफा में समा गया था मैने मा की चूत को साफ करने के लिए अपना मुह चूत पर ले गया और जुबानसे चूत को चाटने लगा मा चूत अब बिलकुल मस्त लग रही थी बाद में मा की नाइटी को ठीक करके मैं सो गया । अगली कहानी मैं बताऊगा आगे की कहानी दोस्तो अगर आपको यह कहानी पसंद आती है तो प्लीज् मुछे imraj.6200@gmail.com पे अपनी प्रतिक्रिया दीजिये यह मेरी पहली कहानी है इसलिए मुझे आगे के लिए प्रोसहित करे धन्यवाद।

loading...

Sexstorian.com - Hindi Sex Stories: Home of Official हिंदी सेक्स कहानियाँ with thousands of hindi sex stories written in hindi.

Site Footer

error: Content is protected !!